Posts

बीजेपी कार्यकर्ता के घर पहुंचे जे पी नड्डा

Image
  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा हरिद्वार दौरे का दूसरा दिन   उतरी हरिद्वार स्थित  मुखिया गली में बूथ अध्यक्ष प्रमोद पाल  के घर पहुंच कर किया नाश्ता, घर पहुंचने पर परिवार के लोगो और कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत साथ में उत्तराखंड के  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी  एवं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष  मदन कौशिक भी मौजूद 

संघ का स्वंयसेवक निस्वार्थ भाव से करता है सेवा कार्य : स्वामी विशोकानन्द भारती

Image

निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन

Image
निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा कनखल हरिद्वार की ओर से उत्तराखंड सरकार के राजकीय प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को 9 अप्रैल को अखाड़े की पेशवाई के लिए मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया है। आज श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा के वरिष्ठ महन्त और कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज की ओर से उनियाल को निमंत्रण पत्र भेंट किया गया। इस अवसर पर महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को शॉल और सरोपा भेंट कर उनको सम्मानित किया गया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज को माल्यार्पण कर उनका आशीर्वाद लिया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने अखाड़े का निमंत्रण सहर्ष स्वीकार किया और भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में निर्मल अखाड़े की भूमिका की पूरी प्रशंसा की और कहा कि निर्मल अखाड़ा भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि निर्मल पंचायती अखाड़ा संस्कृत भाषा को बढ़ाव

भारतीय संस्कृति का जो स्वरूप संतो ने विश्व पटल पर प्रस्तुत किया है वह सराहनीय है-स्वामी ब्रह्मस्वरूप ब्रह्चारी

Image
हरिद्वार ब्यूरो भारतीय संस्कृति का जो स्वरूप संतो ने विश्व पटल पर प्रस्तुत किया है वह सराहनीय है -स्वामी ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी जयराम पीठाधीश्वर स्वामी ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी महाराज ने कहा है कि संत परंपरा सनातन संस्कृति की वाहक है और भारतीय संस्कृति का जो स्वरूप संतो ने विश्व पटल पर प्रस्तुत किया है वह सराहनीय है। भूपतवाला स्थित श्री श्री आत्म योग निकेतन धाम आश्रम में आयोजित संत समागम के दूसरे दिन श्रद्धालु भक्तों को संबोधित करते हुए स्वामी ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि त्याग एवं तपस्या की प्रतिमूर्ति ब्रह्मलीन स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज एक महान संत थे। जिन्होंने संपूर्ण जीवन भारतीय संस्कृति एवं सनातन धर्म का प्रचार प्रसार कर राष्ट्र निर्माण में अपना अतुल्य योगदान प्रदान किया। युवा पीढ़ी को उनके आदर्शो को अपनाकर सनातन धर्म के उत्थान में अपना सहयोग प्रदान करना चाहिए। कार्यक्रम को अध्यक्ष पद से संबोधित करते हुए महंत देवानंद सरस्वती महाराज ने कहा कि संतों का जीवन सदैव परोपकार को समर्पित रहता है। ब्रह्मलीन स्वामी आत्मानंद सरस्वती महाराज ने सदैव ही भावी पीढ़ी को संस्कारवान ब

उत्तरी हरिद्वार से बैरंग लौटी पंजाब पुलिस

Image
 हरिद्वार ब्यूरो उतरी हरिद्वार में पार्षद के घर पहुंची पंजाब पुलिस को स्थानीय लोगो और बीजेपी के नेताओ ने बैरंग लौटाया । प्राप्त जानकारी के अनुसार किसी केस को लेकर पंजाब पुलिस वार्ड नंबर एक पार्षद अनिल मिश्रा के घर छापेमारी करने पहुंची इसकी भनक लगते ही मंत्री मदन कौशिक के पी आर ओ आलोक शर्मा ,बीजेपी नेता बृजभूषण विद्यार्थी, सतपाल ब्रह्मचारी ,विमल त्यागी,अनिरुद्ध भाटी ,विदित शर्मा, मयंक त्यागी ,राजा ममगाई, देवेश ममगई  आदि कई नेता मोके पर पहुंच गए और पंजाब पुलिस को समझ बुझा कर वापिस लौटाया ।

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

Image
बिग ब्रेकिंग  हरिद्वार में भूकंप के झटके  भूकम्प  का बड़ा झटका झटके से लोगों में दहशत का माहौल  आज सुबह 9 बजकर 41 मिनट पर आया हरिद्वार और आसपास के क्षेत्र में भूकम्प का झटका अभी भूकम्प की त्रिवता को नही नापा गया आई आई टी रूड़की का  भूकम्प विभाग  त्रिवता और उसका क्षेत्र की जानकारी जुटाने में लगे

भीमगोडा क्षेत्र में हाथी बना आकर्षण का केंद्र देखें एक्सकलूसिव वीडियो

Image
हाथी बना आकर्षण का केंद्र हरिद्वार ब्यूरो भीमगोडा क्षेत्र के  हिल बाई पास के पहाड़ की चोटी पर में अचानक हाथी दिखने से हाथी लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गया ,देखते ही देखते क्षेत्रीय लोगों में हाथी को देखने के लिए भारी उत्सुकता दिखाई दी  अचानक हाथी के आ जाने से लोग अपनी अपनी छतों पर चढ़कर नजारा देखने लगे और चारो ओर शोर की आवाज़ आने लगी । पहले भी कई बार हाथी आबादी के साथ सटे राजा जी टाइगर रिज़र्व में आते रहते है लेकिन पिछले कई वर्षों से हाथी इस क्षेत्र में दिखाई नही दिए इसका मुख्य कारण बांस के पेड़ों का सफाया हो जाना ,लेकिन अब फिर से बांस के पेड़ उगने लगे है और इसी कारण हाथीयों का आना भी शुरू हो गया है जो कि स्थानीय लोगों का आकर्षण का केंद्र बन गया