विधायक प्रदीप बत्रा ने किया सड़क का शिलान्यास

Image
 रूड़की  का शिलान्यासरोइरजी विधायक प्रदीप बत्रा ने किया सड़क का शिलान्यास रुड़की लंबे इंतजार के बाद आखिर रूड़की के मालवीय चौक से रेलवे स्टेशन तक की सड़क के दिन बहुर गए हैं। आज विधायक प्रदीप बत्रा ने डेढ़ करोड़ की लागत से बनने वाली इस सड़क का फीता काटकर उद्घाटन किया। आपको बता दें कि पिछले कई वर्षो से यहां के लोग इस सड़क के निर्माण की मांग करते आ रहे थे लेकिन इस सड़क का निर्माण नही हो पाया। यह सड़क मालवीय चौक से रेलवे स्टेशन तक बुरी तरह टूटी हुई थी। वहीं इस सड़क को बनाये जाने की घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा भी की गई थी। आज इस सड़क का शिलान्यास विधायक प्रदीप बत्रा ने फीता काटकर किया। उन्होंने बताया की इस सड़क का निर्माण कार्य एक करोड़ 36 लाख की लागत से किया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्षेत्रवासियों के द्वारा लंबे समय से सड़क बनाए जाने की मांग की जा रही थी। सड़क पर बरसात का पानी जमा हो जाता था। अब बरसात के पानी से भी क्षेत्रवासियों को निजात मिलेगी। पार्षद पति कुलदीप तोमर ने बताया कि इस सड़क के बनने से लोगों को राहत मिलेगी। वहीं उन्होंने कहा कि जलभराव की समस्या से निजात दिलवाने के लिए नाले के निर्माण कार्य का प्र

निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन

निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन
श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा कनखल हरिद्वार की ओर से उत्तराखंड सरकार के राजकीय प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को 9 अप्रैल को अखाड़े की पेशवाई के लिए मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया है। आज श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा के वरिष्ठ महन्त और कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज की ओर से उनियाल को निमंत्रण पत्र भेंट किया गया। इस अवसर पर महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को शॉल और सरोपा भेंट कर उनको सम्मानित किया गया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज को माल्यार्पण कर उनका आशीर्वाद लिया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने अखाड़े का निमंत्रण सहर्ष स्वीकार किया और भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में निर्मल अखाड़े की भूमिका की पूरी प्रशंसा की और कहा कि निर्मल अखाड़ा भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि निर्मल पंचायती अखाड़ा संस्कृत भाषा को बढ़ावा देने के लिए महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है इस अवसर पर महंत जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कहा कि सिख पंथ के दसवें गुरू श्री गुरु गोविंद सिंह जी ने निर्मल संतो को संस्कृत की शिक्षा और प्रचार प्रसार के लिए पोंटा साहिब हिमाचल प्रदेश से उत्तर प्रदेश के वाराणसी में संस्कृत के अध्ययन और अध्यापन के लिए भेजा था तब से अब तक निर्मल संत संस्कृत के प्रचार प्रसार में लगे हुए हैं इस अवसर पर सेवादार समाजसेवी देवेंदर सिंह सोढ़ी ने कहा कि उत्तराखंड सरकार ने संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए अच्छा कार्य किया है श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए हमेशा कार्य करता रहेगा।

Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

उत्तरी हरिद्वार से बैरंग लौटी पंजाब पुलिस