Posts

Showing posts from March, 2021

धोखाधड़ी करने वाले तीन वारंटी गिरफ्तार

Image
 धोखाधड़ी करने वाले तीन वारंटी गिरफ्तार, कांग्रेस पार्षद पति भी चढ़ा पुलिस के हत्थे हरिद्वार ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने तीन वारंटीयों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम शौकीन पुत्र तहसीन निवासी बकरा मार्केट ज्वालापुर, जान आलम उर्फ मोनू पुत्र बशीर अहमद निवासी पांवधोई मोहल्ला ज्वालापुर, और अमन शर्मा पुत्र मनोज शर्मा निवासी कपिल मार्केट कनखल है। आरोपी शौकीन पर चेक बाउंस धोखाधड़ी के आरोप है। जिस पर ज्वालापुर कोतवाली में आईपीसी की धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज है। इसके साथ ही दोनों आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहे थे। लेकिन हरिद्वार के पुलिस कप्तान अजय सिंह के निर्देश पर सभी थानों को वारंटियों की धरपकड़ पुलिस ने फरार चल रहे वांछित अपराधियों और वारंटी को गिरफ्तार करने के निर्देश जारी किए गए थे। जिसके अनुपालन में ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने तीनों वारंटीयों को अलग-अलग क्षेत्रों से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश कर दिया है।

संघ का स्वंयसेवक निस्वार्थ भाव से करता है सेवा कार्य : स्वामी विशोकानन्द भारती

Image

निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन

Image
निर्मल पंचायती अखाड़ा के कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को सरोपा और शॉल भेंट कर किया अभिनंदन श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा कनखल हरिद्वार की ओर से उत्तराखंड सरकार के राजकीय प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को 9 अप्रैल को अखाड़े की पेशवाई के लिए मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया है। आज श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा के वरिष्ठ महन्त और कोठारी महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज की ओर से उनियाल को निमंत्रण पत्र भेंट किया गया। इस अवसर पर महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज ने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को शॉल और सरोपा भेंट कर उनको सम्मानित किया गया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने महन्त जसविंदर सिंह शास्त्री महाराज को माल्यार्पण कर उनका आशीर्वाद लिया कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने अखाड़े का निमंत्रण सहर्ष स्वीकार किया और भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में निर्मल अखाड़े की भूमिका की पूरी प्रशंसा की और कहा कि निर्मल अखाड़ा भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि निर्मल पंचायती अखाड़ा संस्कृत भाषा को बढ़ाव