प्रदेश के विकास और समृद्धि हेतु अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें : हरबीर सिंह

जहाँगीर मलिक



राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का महाविद्यालय में किया गया आयोजन प्रदेश हित में डाॅ. बत्रा ने किया शहीदों के सपनों का प्रदेश बनानेे का आह्वान एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में उत्तराखण्ड राज्य स्थापना दिवस के अवसर दिवस पर मुख्य अतिथि सरदार हरबीर सिंह, अपर कुम्भ मेला अधिकारी की की अध्यक्षता में कार्यक्रम आयोजित किया गया। सर्वप्रथम मुख्य अतिथि सरदार हरबीर सिंह व प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने काॅलेज में निर्मित शौर्य दीवार पर शहीदों पुष्पांजलि अर्पित कर एवं दीप प्रज्वलित कर के नमन किया। कार्यक्रम का प्रारम्भ मुख्य अतिथि सरदार हरबीर सिंह अपर कुम्भ मेला अधिकारी एवं काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने सर्वप्रथम मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया गया। प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा, मुख्य छात्र कल्याण अधिष्ठाता डाॅ. संजय माहेश्वरी, मुख्य अनुशासन अधिकारी डाॅ. सरस्वती पाठक आदि द्वारा मुख्य अतिथि को शाॅल एवं बुके भेंटकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि अपर कुम्भ मेलाधिकारी सरदार हरबीर सिंह ने राज्य स्थापना दिवस की बधाई देते हुए अपने संदेश में कहा कि सर्वप्रथम मैं राज्य आन्दोलनकारियों को प्रणाम करता हूं जिनके बलिदान और साहस के बिना उत्तराखण्ड राज्य के सपने का साकार करना सम्भव नहीं था। उन्होंने कहा कि इन बीस वर्षों में उत्तराखण्ड ने बहुत तीव्र गति से विकास किया है। सरदार हरबीर सिंह ने कहा कि प्रगति के पथ पर अग्रसर, प्राकृतिक सम्पदा और नैसर्गिक सौन्दर्य से भरपूर यह प्रदेश ऐसे ही विकास की नित नई ऊंचाईयों को छूता रहे। उन्होंने युवाओं से प्रदेश के विकास में सहयोग का आह्वान करते हुए कहा कि सभी प्रदेश के समग्र विकास और समृद्धि हेतु अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। इस अवसर पर काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने राज्य स्थापना दिवस की बधाई देते हुए कहा कि प्रदेश का निर्माण कई वर्षों के आन्दोलन के पश्चात् भारत के 27 वें गणराज्य के रूप में किया गया था। उन्होंने कहा कि एक युवा की तरह उत्तराखण्ड अब अपने 21वें स्थापना दिवस पर उत्साह से भरपूर, नये विचारों से ओतप्रोत तथा नई चुनौतियों का सामना करने को तैयार राज्य में तब्दील होने की तैयार में है। उन्होंने कहा इन 20 वर्षों के सफर में कई मुकाम हासिल किये, अनेक सफलतायें प्राप्त की तथा अनेक नई राह तलाश करने का दौर जारी है। डाॅ. बत्रा ने कहा कि शहीदों के सपनों का प्रदेश बनाने के लिए हम सभी राज्यवासियों को तन-मन-धन से राज्य हित में कार्य करना होगा, यही उनकी सच्ची श्रद्धाजंलि होगी।


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल