समाज कल्याण विभाग देता है अंतर्जातीय और अंतधार्मिक विवाह को प्रोत्साहन ,दंपत्ति को देता है 50 हजार

समाज कल्याण विभाग देता है अंतर्जातीय और अंतधार्मिक विवाह को प्रोत्साहन, दंपत्ति को देता है 50 हजार 

ब्यूरो रिपोर्ट



लव जिहाद को लेकर पूरे देश भर में कानून बनाने की मांग की जा रही है। और इस मुद्दे पर बीजेपी कि तमाम सरकारें विपक्षी पार्टियों को घेरने का कार्य करती है। मगर उत्तराखंड में लव जिहाद को बढ़ावा देने के लिए सरकार की तरफ से ही 50 हजार का अनुदान दिया जा रहा है। और हम यह बात यूं ही नहीं कह रहे हैं। बल्कि समाज कल्याण विभाग द्वारा अंतर्जातीय और अंतधार्मिक विवाह को प्रोत्साहन देने के लिए दंपत्ति को 50 हजार रूपए दिए जाते हैं। इसको लेकर कांग्रेस भी उत्तराखंड बीजेपी सरकार को घेरने में लगी है। वहीं इस मामले पर जब सरकार में शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक से पुछा गया तो वो भी बगले झांकते नजर आए और वही धर्म परिवर्तन को लेकर उत्तराखंड में कानून बने होने की बात की तो वही संतों की सर्वोच्च संस्था अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी ने एक ही जाति में विवाह करने की बात कही और जो दूसरी जाति में विवाह करते हैं। उसे सनातन परंपरा के खिलाफ बताया।


इस मामले पर शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक सवाल से कन्नी काटते नजर आए मगर उनका कहना है। कि समाज कल्याण विभाग द्वारा जो पैसा दिया जा रहा है। वह अंतधार्मिक को नहीं दिया जा रहा है। पैसा उनको दिया जा रहा है। जो अनुसूचीत जाति की लड़की से शादी करता है। और इस तरह की स्थिति रहती है। तो यह पहले से ही राज्य में दिए जा रहे हैं। हमारे द्वारा लव जिहाद को लेकर कानून बनाया गया है। जो धर्म परिवर्तन करा कर शादी करते हैं। वह डीएम की अनुमति ले और अगर वह डीएम की अनुमति नहीं लेते हैं। तो उनको दंडित भी किया जाएगा यह पहले ही हमारे राज्य में कानून बना हुआ है।



वहीं राज्य सरकार द्वारा अंतर्जातीय और अंतधार्मिक विवाह को प्रोत्साहन देने के लिए दंपत्ति को 50 हजार रूपए दिए जाते का अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी ने विरोध करते हुए इसे सनातन परंपरा के खिलाफ बताया नरेंद्र गिरी का कहना है कि मैं सनातन परंपरा को मानने वाला हूं सनातन परंपरा में जिस जाति लड़का होता है उसे उसी जाति की लड़की से शादी करनी चाहिए हमारी सनातन परंपरा यही कहती है सनातन परंपरा में एक गोत्र के होने पर भी शादी नहीं होती हम लोगों को इसका पालन करने के लिए कहते हैं लव जिहाद के हम खिलाफ है क्योंकि लव जिहाद के नाम पर मुस्लिम लड़के हिंदू लड़कियों को गुमराह करके शादी करते हैं उनको खुलेआम फांसी देनी चाहिए उत्तर प्रदेश सरकार और मध्य प्रदेश सरकार को में धन्यवाद देता हूं उन्होंने इस को लेकर कानून बनाया मैं केंद्र सरकार से मांग करता हूं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमित शाह और राजनाथ सिंह कैबिनेट में लव जिहाद को लेकर प्रस्ताव लाय की देश के सभी राज्य में कानून बनाएं कि लव जिहाद के मामले में आरोपी को 10 साल की सजा दी जाए



Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल