विधायक प्रतिनिधि पर दबंगो ने किया हमला

जहाँगीर मलिक


ज्वालापुर कोतवाली दी तहरीर रानीपुर कोतवाली की सुमन नगर चौकी पुलिस का एक निंदनीय मामला प्रकाश में आया है। वीडियो में देखा गया है कि बार-बार पीड़ित द्वारा अवगत कराने के बाद भी सुमन नगर चौकी पर तैनात पुलिस कर्मियों ने पीड़ित की एक ना सुनी और लगातार पीड़ित को पुलिस के सामने दबंग गाली गलौज, मारपीट और जान से मारने की धमकी देते रहे। लेकिन पुलिस के जवानों ने कोई भी कार्यवाही दबंगों पर नहीं की। क्योंकि चौकी पर तैनात पुलिस कर्मीयो ने दबंगों के साथ मदिरा के नशे का लुफ्त उठाया था और वह नशे में चूर थे। ड्यूटी पर तैनात नशा करना गैर कानूनी है। जो पुलिस की कार्यशैली पर बड़े सवाल खड़े करते हैं। आपको बता दें कि प्रदीप चौधरी ने रानीपुर कोतवाली में तहरीर देकर बताया है। कि दिनांक 23/10/ 2020 की रात्रि को लगभग 12:00 बजे हरिद्वार से सुमन नगर जा रहा था। सुमन नगर चौकी के सामने 2, 3 गाड़ियां खड़ी थी। और एक डीलर व उसके कुछ साथी शराब पी रहे थे। मैंने चौकी पर तैनात पुलिस कर्मी को बताया तो उन्होंने वहीं आकर मुझको गंदी गंदी गालियां देनी शुरू कर दी। और मेरे साथ मारपीट की। शिकायत पत्र में बताया गयाहैं। कि उन लोगों ने विधायक सहित रविदास ट्रस्ट को भी गाली दी और कहा कि हम तुझे जिंदा नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने पत्र में पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि मौके पर सुमन नगर चौकी पुलिस भी मौजूद थी। और वह भी शराब के नशे में थे। पत्र में दोषियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई की मांग की गई है। आपको बता दें कि प्रदीप चौधरी समाजसेवी के साथ साथ पत्रकारिता से भी जुड़े है। जिन्होंने ग्राम पूरनपुर साल्हापुर राम जोड़ा भूमि मेें की हुई भ्रष्टाचारी का बड़ा मुद्दा बड़े अस्तर से उठा रखा है। जिसमें राम जोड़ा की बची हुई 4.5 बीघा जमीन को अतिक्रमण मुक्त करने की आवाज लगातार उठा रखी है। हालांकि गुरु रविदास जी की राम जोड़ा भूमि पूर्व में 2 एकड़ थी। और वह भूमि राजस्व कर्मियों की मिलीभगत के चलते भ्रष्टाचारी का शिकार होकर 4.5 बीघा रह गई है। जिसे कब्जा मुक्त करने के लिए प्रदीप चौधरी ने सूबे के मुख्यमंत्री से लेकर प्रशासन में बैठे उत्तराखंड के उच्च अधिकारियों से गुहार लगा चुके हैं। लेकिन दुर्भाग्य है। कि सूबे में बैठे मंत्रियों से लेकर उच्चधिकारी भी गुरु रविदास जी की राम जोड़ा भूमि के संबंध में मौन है। और अब भ्रष्टाचारी की आवाज को दबाने के लिए पत्रकार के साथ अभद्रता बहुत ही चिंता का विषय है।


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल