कल तक जो अठखेलिया कर रहा था आज नही रहा




  • कल तक जो अठखेलिया कर रहा था आज नही रहा


राजाजी टाइगर रिजर्व में कल देर रात आपसी संघर्ष में घायल हुए हाथी की देर रात मौत हो गयी थी। आपसी संघर्ष में घायल इस हाथी को गंगा नदी से रेस्क्यु करने में हरिद्वार वन प्रभाग व राजाजी टाइगर रिजर्व के वन कर्मियों के पसीने छूट गए थे। देर रात वन महकमे ने इसे रेस्क्यू करने में सफलता तो प्राप्त कर ली थी मगर कुछ देर में ही इसकी मौत ने सारी कवायद पर प्रश्नचिह्न लगा दिया है। देर रात हाथी की मौत के बाद भी 12 घंटे से भी अधिक समय बीत जाने के बावजूद इसका पोस्टमार्टम शुरू नही किया जा सका। सुबह ग्यारह बजे देहरादून व हरिद्वार से पँहुचे उच्च अधिकारियों ने इस प्रक्रिया को शुरू करवाया। 12 घंटे से अधिक समय बीत जाने के सवाल पर अधिकारी गोल मोल जवाब देते नजर आए। अधिकारियो का गोल मोल जवाब वन्य जीव संरक्षण के नाम पर करोडो खर्च करने वाले महकमे पर कई सवाल खड़ा करता है


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल