गुज्जर बस्ती में आग




  • गुज्जर बस्ती में आग


जहाँगीर मलिक


गेंड़ी खाता गुर्जर बस्ती गली नम्बर 7 में गुजरो की झोपडी जल कर राख हो गई। जिसमे बंधी भैंसे भी झुलस गई। आसपास के लोगों ने डेरे की दीवार तोड़ मवेशी ओर अंदर रखे सामान को बाहर निकालने का प्रयास किया। दमकल वाहन के आने से पूर्व ही ग्रामीणों ने आग पर काबू पाया । 


गुर्जर बस्ती निवासी गुलाम नबी उर्फ रानी पुत्र शमशेर गली नम्बर 7 अपने डेरे के समीप खेत मे काम कर रहा था। तभी अचानक उसे अपनी झोपड़ी से धुआं निकलता दिखाई दिया। उसने जब झोपड़ी में जाकर देखा तो झोपड़ी धुं धुं कर जल रही थी। शोर मचाने पर आसपास के लोग भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने आग बुझाने जा काफी प्रयास किया। लेकिन दोपहर में तेज हवा चलने से आग फैलती गई। देखते ही देखते डेरे में रखा अनाज, कपडे, बच्चों की किताबें सब जल कर खाक हो गई। डेरे के समीप बंधे मवेशी भी आग की चपेट में आने से बुरी तरह झुलस गये। आग लगने की सूचना मिलते ही अन्य लोग भी वहाँ आ पहुंचे और आग बुझाने का प्रयास करने लगें। लोगों ने डेरे की दीवार तोड़ भैंस ओर घर मे रखे समान को बचाने का प्रयास किया। जब तक भैंस को बाहर निकाला गया। तब तक वह बुरी तरह झुलस चुकी थी। सूचना मिलते ही पुलिस और तहसील के अधिकारी मौके पर पहुंचे। आपको बता दें गेंड़ी खाता में गुज्जरों की बस्ती को कोरोना संक्रमण के चलते सील किया गया है। जिस वजह से सभी लोग अपने-अपने घर में थे। जिससे आग पर काबू पाने में सहायता मिली। नहीं तो कोई बड़ा हादसा हो सकता था । अग्निशमन के आने तक  काफी हद तक आग पर काबू पा लिया गया था। सुचना मिलते ही सीओ श्यामपुर विजेंद्र डोभाल मौके पर पहुंचे । उन्होंने कहा कि लेखपाल ने अग्निकांड के नुकसान की रिपोर्ट बना दी है। उन्होंने कहा कि आग लगने से दो मवेशी भी उसकी चपेट में आने से झुलस गए थे। पशु चिकित्साधिकारी द्वारा उनका इलाज किया जा रहा है । 


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल