आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने घेरा विकास खंड मुख्यालय

चमोली पुष्कर नेगी


आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने नारायणबगड मे
घेरा विकास खंड मुख्यालय।

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का आज चोबीसव़े दिन सरकार की उदासीनता से आक्रोश में तहसील पंती(नारायणबगड) से नारायणबगड बाजार मे जलूल निकाला और विकास खंड मुख्यालय पर पहुंची


 सरकार के खिलाफ की जमकर  नारेबाज़ी निम्न मांगों को लेकर निकाला जुलूस



  1. मिनि कैंद्रों को पूर्ण कैंद्रों मे समायोजित करते हुए समान कार्य का समान मानदेय किया जाए

  2. न्युनतम मानदेय18000हजार रुपए किया जाए

  3. कार्यकत्रियों को कैंद्र सरकार के बराबर मानदेय दिया जाये।

  4. आंगनबाड़ी सहायिकाओं के मानदेय मे कार्यकत्रियों के मानदेय के 75 प्रतिशत दिया जाए।

  5. दीपावली व अन्य त्योहारों पर निरंजन बोनस दिया जाए।

  6. म़ाग थी कि आंगनबाड़ी कार्यत्रियों प्रमाण पत्र के बिना किसी भी सरकारी/गैरसरकारी स्कूलों में तीन से छ वर्ष के बच्चों को दाखिला ध दिया जाये।

  7. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए गए फोन के सर्तो को वापस लिया जाए।
    उनका कहना था कि अगर फोन किसी दशा में खराब हो जाता है या तकनीकी कारणों से अवरूद्ध हो जाता हे तथा खो जाता है तो विभाग वर्कर पर फोन की कीमत न वसूली जाए।

  8. परियोजना के कार्यों के लिए आने जाने पर यात्रा भत्ता दिया जाए।

  9. बरिषठता के आधार पर प्रति वर्ष मानदेय बढाया जाए।


इसके बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ता विकास खंड मुख्यालय पर वहीँ धरने पर बैठकर नारेबाजी करने लगी और इस अवसर पर सभा भी आयोजित की गई।जिसमे आंगनबाड़ी की वक्ताओं ने सरकार पर अपनी उपेक्षापूर्ण रवैये पर अफसोस जताया।
 इसके बाद  खंड विकास अधिकारी के द्वारा मुख्यमंत्री के नाम मांग पत्र सौंपा।
मौके पर आई विधायक प्रतिनिधि  को भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओन ने वहीं ज्ञापन सौपा।


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल