आखिर क्यों करना पड़ा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के पोते को अनशन


  •  स्वतंत्रता सेनानी के पोते ने शुरू किया अनशन


लालकुंआ ऐजाज हुसैन


लालकुंआ-जहां एक ओर पूरा देश  गणतंत्र दिवस बड़ी धूमधाम से मना रहा है, वहीं बिन्दुखत्ता स्थित शहीद स्मारक पर एक युवक अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गया 
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नारायण दत्त पंत के पोते शंकर दत्त पंत जो सरकार और प्रशासन के उदासीन रवैए के चलते शहीद स्मारक पर धरने पर बैठने को मजबूर हो गया है। देश को आजाद कराने के लिए स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने अपने प्राणों की आहुति दी और कई बलिदानों के बाद देश को आजादी मिली 26 जनवरी 1950 को अपना संविधान मिला पर यह सब उन बलिदानों की वजह से ही संभव हो पाया। मगर स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के आश्रितों को सरकार और प्रशासन द्वारा दी जाने वाली सुविधाएं शंकर दत्त पंत और उनके परिवार को आज तक नहीं मिल सकीं। उनका पूरा परिवार देश के प्रति समर्पित रहा और ताम्रपत्र भी सरकार द्वारा उन्हें दिया गया है। मगर कोई सुविधा नहीं मिलने से क्षुब्ध शंकर दत्त पंत अब अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गए हैं। उनका कहना है कि सरकार और प्रशासन जब तक उनकी मांगे नहीं मानता तब तक वह अंतिम समय तक अपना अनशन जारी रखेंगे जिसका परिणाम और सारी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।


 


Comments

Popular posts from this blog

ब्रेकिंग -हरिद्वार में भूकंप के झटके

कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, देखें

पूर्ति निरीक्षक रिश्वत लेते हुए कैमरे में हुआ कैद वीडियो हुआ वायरल